सेवा सदन व कूडो संघ ने फिर किया आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

सेवा सदन व कूडो संघ ने फिर किया आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

सेवा सदन व कूडो संघ ने फिर किया आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन पचास हजार महिलाओं व बालिकाओं को आत्म रक्षा का प्रशिक्षण देने के मुहिम के तहत एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर गऊ शाला फाटक स्थित धारा सिंह बालिका विद्यालय में सेवा सदन, व कूडो वेलफेयर संघ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजन किया गया, आज की अपराध भरे माहोल जैसे चेन स्नेचिंग, किडनैपिंग, बलात्कार, लुट पाट, आदि घटनाओं से निपटने के लिए कूडो वेलफेयर संघ गाजियाबाद के महासचिव व सेवा सदन के महिलाओं व बालिकाओं के मुख्य प्रशिक्षक तरुण शर्मा द्वारा बताया गया कि ,अपनी सुरक्षा स्वंय विशेष परिस्थिति में कैसे करें ,बहुत ही आसान आसान तरीके बताये गये।
तरुण शर्मा ने महिलाओं व बालिकाओं को बताया की आप किस तरह अपने उपर हो रहे प्रहार व अन्याय जैसे किसी ने हाथ,गला,बाल, पकड़ लिया या किसी ने चाकू,लाठी,गन से प्रहार किया या किसी ने आपका पर्स,चेन या कोई कीमती समान लुटने की कोशिस करे तो आपको कैसे बचना है वो भी आपके रोज इस्तेमाल होने वाले पिन, बालों का हेयर बैंड, पैन, दुपट्टा या अपने बॉडी के पार्ट्स ऊँगली,पैर,दांत,घुटना,सर,कोहनी आदि को कैसे हथियार की तरह इस्तेमाल कर के अपने दुश्मन से बचना है।

शिविर के समाप्ति पर समाज सेवी चौधरी मंगल सिंह,(महा मंत्री सेवा सदन)ने बच्चों को बताया कि गुस्सा अपने आप को खा जाता है हम ग़ुस्सेमें विवेकहीनता के शिकार हो जाते है हमे छोटी छोटी बातों पर गुस्सा नही होना चाहिए ,गुस्सा आ भी जाये तो उसे कन्ट्रोल करने के लिए 10 बार लम्बे सांस लें तो हमारा गुस्सा शांत हो जाएगा । लम्बा व स्वास्थ्य जीवन जीने के किये बच्चों को प्रति दिन प्राणायाम करना चाहिए उस में भी ब्रीथिंग यानि कि लंबे सांस लेने चाहिए ताकि अधिक से अधिक ऑक्सीजन हम ले सकें ,जिससे मन शरीर दोनों स्वस्थ रहेंगे , आपने आगे कहा कि महिलाओं को आत्म रक्षा की ट्रेनिग लेने से उन के अंदर आत्म विश्वास बढ़ेगा,ओर जब कॉन्फिडेंस लेवल हाई होगा तो हम घबराएंगे नही किसी भी विषम परिस्थिति का सामना कर सकेंगे ।,अधिवक्ता शिवांगी कौशिक, ने बताया कि यदि हम आत्म रक्षा के कुच्छ गुर सीखे होंगे तो जरूरत पड़ने पर किसी वशेष परिस्थिति में अपनी सुरक्षा करने में काम आएंगे ,आगे आपने बच्चियों को बताया कि जरूत पड़ने पर यदि कोई हमें तंग करता है तो 1090 पर फोन करके पुलिस को भी सूचना दे सकते हैं ।सुश्री शिवांगी कौशिक जी ने देश की महिलाओं व बालिकाओं को शुभकामना देते हुए कहा की अब समय आगया है की हर महिला अपनी सुरक्षा खुद करने में सक्षम बने ,ये तब ही सफल होगा जब आप आत्म रक्षा शिविर में भाग लेकर अपने आप को बचाने की तकनीक को सीखेंगी और अपने आप को सशक्त बनाएंगी।पूर्व प्रधानाचार्य श्री ओमप्रकाश शास्त्री जी ने इस मौके पर प्रशिक्षण दे रहे। कूड़ो वेलफेयर एवं सेवा सदन सभी पदाधिकारियों को धन्यवाद देते हुवे कहा कि सेवा सदन के महामंत्री चौधरी मंगल सिंह जी ने यह महिलाओं को प्रशिक्षण देने का जो अनूठा कार्य शुरू किया है वह वास्तव में सरकार को करना चाहिए था ,क्यों कि यदि समाज को अपराध मुक्त बनाना है तो महिलाओ को आगे आना होगा, शास्त्री जी श्री के के शर्मा जी का स्वागत करते हुए अपने स्कूल की कुछ समस्याओं से अवगत कराया के के शर्मा जी ने यथा संम्भव सहायता करने व समस्याओं को दूर का आस्वाशन दिया,श्री आर . के. आर्य जीने भी बलिकाओं को उत्साहित करते हुवे कहा कि कोई भी कार्य बड़े ध्यान से अनुशासित होकर सीखना चाहिए ,सेवा सदन के द्वारा किये जा रहे सेवा के कार्य बहुत ही प्रशंसनीय है ,आत्म रक्षा का प्रशिक्षण एक जीवन जीने की कला है ,स्कूल की प्रधानाध्यापिका श्रीमती दीप माला जी बताया कि वैसे तो हमारे स्कूल में समय समय पर बहुत सारे केम्पों द्वारा बच्चों को विभिन्न तरह के विषयों की ट्रेनिग दी जाती रहती है मगर सेवा सदन द्वारा दिया जा रहा आत्म रक्षा का प्रशिक्षण बलिकाओं के लिए तो बहुत ही आवश्यक है ,यदि देश की महिलाएं शसक्त होंगी तो अपराध भी कम होंगे और हम एक सुरक्षित वातावरण का निर्माण कर सकेंगे ।
समाज सेवी ,स्कूल की कोर्डिनेटर श्रीमति किरण श्रीवास्तव जी ने बलिकाओं से आवाहन किया कि अब समय आगया है हमे अब अबला नही बनना है बल्कि लक्ष्मीबाई बनने की आवश्यकता है ताकि हम सभी मिलकर एक अपराधमुक्त समाज का निर्माण कर सकें । सेवा सदन के कुडो एसोशिएशन के प्रधान प्रशिक्षक श्री तरुण शर्मा तथा अन्य प्रशिक्षकों को बधाई देते हुए कहा की इस तरह के शिविरों का आयोजन होते रहें तो समाज में महिलाओं का आत्म विश्वास भी बढ़ेगा और महिलाओं व बच्चियो को अपनी बचाव करने के तरीके सिखने को मिलते रहेंगे , शिविर में उपप्रशिक्षक के रूप में ,केशव शर्मा,विपन कुमार शर्मा,मोनिका व देव कुमार ने भाग लिया। इस शिविर में काफी संख्या में महिलाओं व बालिकाओं ने उत्सुकतावस भाग लिया।*
*सफल प्रशिक्षण के बाद महिलाओं/बालिकाओं ने संकल्प लिया है कि हम पूरी तरह से ट्रेनिंग लेकर सेवा सदन की इस मुहिम को आगे बढ़ाएं । इस अवसर पर विशेष अतिथि श्री संजीत राणा,रवि गर्ग,नीरज गोयल,विजय पवांर, यथार्थ शर्मा (अथाह) रजनी दिवाकर, कुम-कुम, ,कृष्ना ,अधिवक्ता चंचल गुप्ता, अधिवक्ता कु शिवांगी कौशिक समाज सेवी एस के त्यागी,एस एस त्यागी,समाज सेविका कविता शर्मा,रचना,उषा राणा ,ओमप्रकाश शास्त्री जी ने आदि प्रमुख रहे*
14
*प्रशिक्षण शिविर की कोर्डिनेटर श्रीमती कविता शर्मा जी ने बताया कि हमारे सेवा सदन के द्वारा गाजियाबाद जनपद में 100 वार्ड हैं हम सभी वार्डो में आत्म रक्षा शिविर लगा कर मजीलसों को प्रशिक्षण देने का प्रयास कर रहे हैं जिस से कि जनपद गाजियाबाद में अधिक से अधिक महिलाओं को आत्म रक्षा का प्रशिक्षण दिया जा सके* *कविता शर्मा जी ने बताया कि हम चौधरी मंगल सिंह जी के मार्ग दर्शन पूरी टीम कार्य करती है और हमारा लक्ष्य पचास हजार महिलाओं व बालिकाओं को आत्म रक्षा प्रशिक्षण देने का है अभी तक हमारे द्वारा करीब तीन हजार,दो सौ महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका

Leave a Reply